वर्षगाँठ पर सभी भारतीय ब्लागरों का हार्दिक अभिनन्दन


ज हमारीवाणी ब्लाग संकलक की पहली वर्षगाँठ है। पिछले वर्ष आज ही के दिन इस का जन्म हुआ था। इस बीच हिन्दी ब्लागजगत के दो प्रधान संकलक एक साथ लुप्त हो गए। इस के पीछे मुख्यतः तकनीकी कारण अधिक थे। हमारीवाणी टीम की कोशिश थी कि इस का संचालन इस प्रकार हो कि उस पर न तो अधिक आर्थिक भार पड़े और न ही तकनीकी परेशानियाँ सामने आएँ। संकलक संचालन का कोई अनुभव न होने पर भी टीम-हमारीवाणी इस संकलक को एक वर्ष तक निर्बाध रूप से चला सकी। यह उस की सफलता ही कही जाएगी।  टीम ने इस बीच प्रयत्न किया कि संकलक अपने सभी सदस्यों को समान सुविधा प्रदान करे। इस  प्रयास में  टींम-हमारीवाणी को कुछ सदस्यों की नाराजगी भी सहन करनी पड़ी। 

मारीवाणी इस अर्थ में अपने पूर्ववर्ती संकलकों से भिन्न है कि टीम हमारीवाणी इसे आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर  बनाना चाहती है।  जिस से न केवल इस की निरंतरता बनी रहे अपितु इस के उपयोगकर्ताओं के लिए इसे और अधिक उपयोगी बनाया जा सके।  इस लक्ष्य को हासिल कर सकना तब संभव है जब कि इस की सदस्य संख्या वर्तमान सदस्य संख्या की कम से कम दस गुनी हो जाए। इस के लिए यह आवश्यक है कि नए सदस्यों का प्रवेश लगातार होता रहे। प्रतिदिन इस पर सूचित होने वाले ब्लागों की संख्या में भी वृद्धि हो। यदि प्रति घंटे सूचित होने वाले ब्लागों की संख्या बीस तक हो जाए तो बहुत सी ऐसी समस्याएँ जो इस एक वर्ष में टीम-हमारीवाणी को देखनी पड़ीं वे स्वतः ही हल हो जाएंगी। 
टीम-हमारीवाणी एक बात बहुत शिद्दत के साथ महसूस करती है कि बहुत से वरिष्ठ ब्लागर अभी इस से नहीं जुड़ सके हैं।  उस का एक प्रमुख कारण था कि टीम को इस कार्य का अनुभव नहीं था। टीम यह भी चाहती थी कि यदि सूचित होने वाले ब्लागों की संख्या धीरे-धीरे बढ़ेगी तो तकनीकी समस्याएँ कम से कम होंगी। इस कारण से टीम ने अपनी ओर से इस के लिए प्रयास भी नहीं किया। टीम को अनेक तकनीकी समस्याओं का सामना करना पडा़।  प्रसन्नता की बात यह है कि इन सभी समस्याओं पर टीम काबू पा सकी। अब जब पुरानी समस्याएँ लगभग हल की जा चुकी हैं तो टीम कुछ सुविधाएँ हमारीवाणी पर बढ़ाने के लिए प्रयासरत है।  इन सुविधाओं पर तकनीकी काम किया गया है। टीम-हमारीवाणी पहली वर्षगांठ पर इन सुविधाओं को आरंभ करना चाहती थी, लेकिन साथ ही वह यह भी चाहती है कि सुविधाएँ अपने उत्कृष्ठतम रूप में सामने आएँ। टीम प्रयासरत है कि हमारीवाणी के उपयोगकर्ताओं को शीघ्र ही ये सुविधाएँ हमारीवाणी से प्राप्त होने लगें। 

हली वर्षगाँठ पर टीम-हमारीवाणी का सभी ब्लागरों से यही आग्रह है कि वे इसका सदुपयोग करें। जो ब्लागर अभी तक सदस्यता ग्रहण नहीं कर सके हैं, वे सदस्य बनें। ब्लागरों की शुभकामनाएँ साथ रहीं तो हमारीवाणी के ब्लागर सदस्यों की संख्या में तेजी से वृद्धि होगी और यह ब्लागरों का सर्वप्रिय संकलक बन सकेगा। 

हमारीवाणी अपनी पहली वर्षगाँठ पर सभी भारतीय ब्लागरों का हार्दिक अभिनन्दन करता है !!!


48 टिप्‍पणियां:

  1. तमाम झंझावतों को झेलने के बावजूद हमारीवाणी का निर्बाध रूप से सेवाएं देते रहना प्रशंसनीय है...मार्गदर्शक मंडल के ज़रिए मेरा इससे जुड़ा रहना मेरे लिए सौभाग्य की बात रहा है...आशा है ज़्यादा से ज़्यादा ब्लॉगर इससे जुड़कर इसके नाम के मायने को सार्थक करेंगे...

    जय हिंद...

    उत्तर देंहटाएं
  2. बधाई और शुभकामनाएं !

    अन्नपूर्णा

    उत्तर देंहटाएं
  3. ढेर सारी बधाइयाँ और शुभकामनायें !

    उत्तर देंहटाएं
  4. मान्यवर , सादर नमस्कार
    मेरी बधाई स्वीकारें.

    उत्तर देंहटाएं
  5. बहुत-बहुत बधाई !
    शुभकामनायें!

    उत्तर देंहटाएं
  6. हमारी ओर से ढेरों हार्दिक बधाई ।

    मार्कण्ड दवे।

    उत्तर देंहटाएं
  7. स्थापित हिंदी ब्लॉग संकलकों के ठिठक जाने से उत्पन्न रिक्तता को किसी हद तक हमारीवाणी ने भरा है। सफ़लतापूर्वक एक वर्ष के पड़ाव की बधाई व शुभकामनाएँ

    चाहे कितना भी बड़ा ब्रांड हो, तकनीकी दिक्कतें तो आती रहती हैं। इसमें कोई विशेष चिंता वाली बात नहीं होनी चाहिए उपयोगकर्ता को।

    उत्तर देंहटाएं
  8. हमारीवाणी अच्‍छा काम कर रही है. जब बच्‍चा पैदा होता है तो उसे शुरुआती सालों में केयर की काफी जरूरत होती है. आपने हमारीवाणी की केयर की और उसे अपने पैरों पर खड़ा किया. उम्‍मीद है आगे भी आप इसी तरह हमारीवाणी को चलाएंगे.

    हमारीवाणी को जन्‍मदिन की बहुत-बहुत शुभकामनाएं. भगवान हमारीवाणी की उम्र बहुत लंबी करे.

    दुनाली की तरफ से 2 कारतूसों की सलामी स्‍वीकार करें.

    उत्तर देंहटाएं
  9. प्रिय हमारीवाणी टीम
    सादर वंदे।
    बेलाग, बेखौफ टिप्पणीकार ब्लागरों को एक सार्थक मंच देने के लिए आभार। इस सार्थक और सोद्देश्य यात्रा की वर्षपूर्ति पर ढेरों बधाइयां, अनेक शुभकामनाएं। ईश्वर करे आप नित नयी प्रगति करें और इसी तरह सार्थक पत्रकारिता के प्रोत्साहन के वाहक और धारक बने। आप हम सभी की हमारीवाणी हैं और आशा ही नहीं पूर्ण विश्वास कि हमारीवाणी नितंरतर प्रखर और प्रखरतर होती जायेगी और सही और सोद्देश्य पत्रकारिता के सारथियों में सदैव समादृति होगी। आपका-राजेश त्रिपाठी , कोलकाता

    उत्तर देंहटाएं
  10. ढेर सारी बधाइयाँ और शुभकामनायें मार्गदर्शक मंडल को।

    पावला जी की बातों से सहमत कि -"चाहे कितना भी बड़ा ब्रांड हो, तकनीकी दिक्कतें तो आती रहती हैं। इसमें कोई विशेष चिंता वाली बात नहीं होनी चाहिए उपयोगकर्ता को।"

    उत्तर देंहटाएं
  11. बहुत बहुत बधाई, शुभकामनाएँ एवं साधुवाद!!!

    --------------------

    भारतीय ब्लॉगर????? इसे हिन्दी ब्लॉगर कहें तो बेहतर!!!!!

    उत्तर देंहटाएं
  12. हमारी वाणी वर्षगांठ की बधाई वा मंगल शुभ कामनाएँ

    उत्तर देंहटाएं
  13. सम्मानीय सभी योगदानकर्त्ता को प्रथम "वर्षगाँठ पर "शकुन्तला प्रेस ऑफ इंडिया प्रकाशन" परिवार की ओर से हार्दिक शुभकामनाये.
    आज मेरे भी दो ब्लोगों का "जन्मदिन" हैं.जिससे आप परिचित भी है.उसकी प्रथम पोस्ट को आपने अपनी ई-पत्रिका प्रकाशित करने के योग्य भी पाया था. लेकिन मैं जानकारी के अभाव में उसपर पहली पोस्ट 31 जुलाई को डाल पाया था. जिससे किन्ही कारणों के चलते 2 अगस्त को देखा गया था. मुझे इन्टरनेट कहूँ या ब्लॉग जगत की ए.बी भी नहीं आती थी और फिर बहुत कम शिक्षा होने के कारण अंग्रेजी आने की वजह से आज भी अंग्रेजी में आने वाली ईमेल को डिलेट कर देता हूँ. यहाँ एक-एक से एक महानुभवों का जमावड़ा हैं.तब भी एक नए ब्लॉगर की परेशानियों से अवगत होने के लिए पुख्ता व्यवस्था का अभाव महसूस करता हूँ.मैं आज भी ब्लॉग जगत की बहुत चीजों के चलते अनाड़ी हूँ और यहाँ पर बड़े-बड़े खिलाडी है. मैं भी चिंतित हूँ कि "हमारीवाणी" संस्था में कोई भी ब्लॉगर पंजीकरण से वंचित ना रहे. इसके सदस्यों की संख्या 20 हजार हो जाए. मगर कैसे? इसके कुछ अपने नियमों को लचीला बनने की आवश्कता है और तकनीकी जानकारी कहूँ या यहाँ से जाने वाली ईमेल और पंजीकरण की रसीद की भाषा इतनी सरल और आम-बोलचाल में हो कि-उसको एक अनाड़ी भी उपयोग में ला सकें.मेरा यहाँ पर पंजीकरण 6 सितम्बर 2010 को हो गया था. लेकिन जानकारी के अभाव कई ईमेल प्राप्त होने के बाद भी कुछ आगे कार्यवाही नहीं कर पाया.इसका मोनोग्राम तक 4 मार्च को लगाने में कामयाब हुआ. उसके बाद बहुत दिनों पोस्ट कैसे दिखेंगी जानकारी के कारण वंचित रहा. जिससे तकनीकी जानकारी ना हो वो वेचारा क्या करेंगा. मैं आज भी ब्लॉग जगत का ए.बी ही सीख पाया हूँ. उससे आगे सिखने के लिए बहुत सारा अध्ययन कर रहा हूँ. मगर जटिल भाषा शैली के कारण बहुत-बहुत,थोड़ा-थोड़ा सीख पा रहा हूँ.
    अपने गुरुवर श्री दिनेशराय द्विवेदी के मार्गदर्शन से आगे बढ़ने के प्रयास भी कर रहा हूँ और उन्हीं के आलेख के मुताबिक फ़िलहाल १२ हजार ब्लॉग सक्रिय हैं. तब बाकी के कहाँ से और कैसे आयेंगे. इसके लिए "हमारीवाणी" की पूरी टीम को प्रयास करने होंगे. कैसे-मेरे विचार से:-यहाँ पर सबसे पहले तो एक ऐसा विडियों डाला जाना चाहिए.जिसमें पंजीकरण से लेकर मोनोग्राम लगाने की पूरी प्रक्रिया हिंदी में होने के साथ ही सरल भाषा में हो और कुछ ऐसे लेख जो "ब्लॉग कैसे बनाये" की जानकारी देते हो उसका एक कालम हो.इससे नए ब्लोग्गर को बहुत फायदा होगा.आज बहुत से ब्लोगों पर ऐसे बहुत ही उपयोगी लेख है. जिनको बिना किसी प्रकार का भेदभाव किये ही उस कालम में शामिल किया जाना चाहिए. वैसे इसका मोनोग्राम बहुत अच्छा है. लेकिन इसमें संशोधन करके या एक नया बनाना चाहिए. जिसमें इन शब्दों का उल्लेख हो कि-हमारीवाणी परिवार से कैसे जुडे यह जाने विडियों देखकर या ब्लॉग बनाये(यहाँ क्लिक करें) इससे फायदा यह होगा नए पाठक जुडेगे,नए ब्लॉग बनेंगे और नए ब्लोग्गर अपना पंजीकरण करवाएंगे. हो सकता हैं मेरे विचार सही ना हो,मगर मेरा विश्वास है.अगर ऐसा होता है. तब ब्लॉग जगत मीडिया के विकल्प के रूप में बहुत आगे तक जा सकता हैं.यहाँ पर एक ब्लॉगर डी.ए.वी.पी(भारत सरकार की सरकारी विज्ञापन रिलीज करने वाली संस्था) और मार्किटिंग पर विज्ञापन के लिए निर्भर नहीं है. बातें बहुत सी है मगर फिर कभी.............
    अब एक जिज्ञासा कहूँ या जानकारी मुझे अपने ब्लॉग का जन्मदिन कब मनाना चाहिए?क्या 19 जुलाई को या 31 जुलाई को या 2 अगस्त को? वैसे मेरे विचार में मेरा ब्लॉग "दूध पीता बच्चा है" क्योंकि गर्भकाल को न गिने तो मात्र मेरा ब्लॉग आज 2 महीने और 20 दिन का है. नन्हें शिशु को थोड़ा बड़ा होने दीजिए.फिर आप इसका जन्मदिन बना लेना उचित होगा.अभी तो यह केवल दूध पर ही निर्भर है.जरा अन्न-बन् खाने लग जाने दो. सभी महानुभवों को दूध पीते बच्चे की ओर ढेर सारी शुभकामनायें. किसी प्रकार की गुस्ताखी के लिए क्षमा करें.क्षमादान से बड़ा कोई दान नहीं है.

    उत्तर देंहटाएं
  14. सालों-साल दिन ये आये
    सालों-साल दिन ये आये
    हम चलें इसी के साथ ..
    बधाई वर्ष-गांठ की हो
    बधाई वर्ष-गांठ की हो

    उत्तर देंहटाएं
  15. बधाई ... बहुत बहुत शुभकामनाएं ... अच्छे काम में कठिनाई तो आती है पर हमारीवानी के प्रबंधक बधाई के पात्र हैं पहली वर्षगांठ पर ...

    उत्तर देंहटाएं
  16. हमारीवाणी के जनम दिन पर सुरत से पियुष महेता की और से बधाई । ऐसी तक़नीकी व्यवस्था होनी चाहीये, कि सदस्य ब्लोग पर रख़ी गई किसी भी नयी पोस्ट अपने आप हमारीवाणी पर आ जाये । हा, एक बात जरूर आप कह सकते है कि सदस्यों के विचारों से आपकी सहमती ही समझी जाय वह जरूरी नहीं है और अगर कोई पोस्ट आप को सह प्रकासन योग्य नहीं लगे तो आप को उसे इस मंच पर से हटानेका अधिकार जरूर हो ।
    पियुष महेता ।
    सुरत-395001.

    उत्तर देंहटाएं


  17. हमारीवाणी ब्लाग संकलक की पहली वर्षगांठ के शुभ अवसर पर हार्दिक बधाई !
    मंगलकामनाएं और शुभकामनाएं !


    -राजेन्द्र स्वर्णकार

    उत्तर देंहटाएं
  18. badhai. badhai... badhai hooo....
    shandar safalta par badhai hooo.

    उत्तर देंहटाएं
  19. एक वर्ष पूरा करने की हार्दिक बधाइयाँ और आगामी वर्षों के लिए अग्रिम बधाई

    उत्तर देंहटाएं
  20. एक वर्ष का सफर सफलतापूर्वक पूरा करने के लिए बधाइयाँ और भविष्य के लिए अनेक शुभकामनाएँ।

    उत्तर देंहटाएं
  21. आपकी प्रवि्ष्टी की चर्चा कल बुधवार के चर्चा मंच पर भी की गई है!
    यदि किसी रचनाधर्मी की पोस्ट या उसके लिंक की चर्चा कहीं पर की जा रही होती है, तो उस पत्रिका के व्यवस्थापक का यह कर्तव्य होता है कि वो उसको इस बारे में सूचित कर दे। आपको यह सूचना केवल उद्देश्य से दी जा रही है!

    उत्तर देंहटाएं
  22. मेरी तरफ से बधाई।
    ईश्वर करे कि यह संकलक कभी न बन्द हो।

    उत्तर देंहटाएं
  23. वाह हमारीवाणी टीम को इसके लिए समस्त ब्लॉगर्स की तरफ़ से बहुत बहुत शुक्रिया और बधाई । असीम शुभकामनाएं । ये सफ़र निर्बाध गति से बढता रहे हम यही चाहते हैं । शाहनवाज़ भाई , आप इस सफ़लता के लिए सबसे बडे हकदार हैं और खुशदीप भाई , दिनेश राय द्विवेदी जी एवं पूरी टीम को बहुत बहुत बधाई

    उत्तर देंहटाएं
  24. हमारीवाणी परिवार को अशेष शुभकामनाएं.. आपने कठिन घड़ी में ब्लोगरों का साथ दिया है, आप दीर्घायु बनें यही हार्दिक कामना है।

    उत्तर देंहटाएं
  25. बधाई और शुभकामनायें .
    अब तो हमारीवानी का ही भरोसा है .

    उत्तर देंहटाएं
  26. कामयाबी का यह सिलसिला यूंही चलता रहे...इन्ही दुआओं के साथ, बहुत बहुत मुबारकबाद.

    उत्तर देंहटाएं
  27. पहली वर्षगाँठ पर हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं....

    "हमारी वाणी...
    लिखे सफलता की
    नई कहानी...."
    सादर....

    उत्तर देंहटाएं
  28. हार्दिक बधाईयाँ और शुभकामनाएँ...

    उत्तर देंहटाएं
  29. हार्दिक बधाई और शुभकामनायें।

    उत्तर देंहटाएं
  30. aapko hardik badhaayee.. aashaa hai hamesha aise hi hamara saath bana rahega..

    उत्तर देंहटाएं
  31. हार्दिक बधाई और शुभकामना !

    उत्तर देंहटाएं
  32. बहुत बहुत बधाई, और शुभकामनाएँ

    उत्तर देंहटाएं
  33. बहुत बहुत बधाई इन उंचाईयों को छुने की.
    Dr.Lal Ratnakar
    www.ratnakarart.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं
  34. हमारी ओर से ढेरों हार्दिक बधाई ।

    उत्तर देंहटाएं
  35. हार्दिक बधाई !
    हमारीवाणी की सामर्थ्य निरंतर बढ़ती रहे और यह दीर्घायु हो !

    उत्तर देंहटाएं
  36. This is a really excellent read for me. Must agree that you are one of the coolest bloggers

    उत्तर देंहटाएं